24 से गोयनका कॉलेज में अनशन पर बैठेंगे अधिवक्ता ठाकुर चंदन सिंह

0

सीतामढ़ी शहर स्थित श्री राधा कृष्ण गोयनका कॉलेज में अध्यापकों की कमी को लेकर कुछ माह पूर्व आंदोलन पर बैठे स्थानीय अधिवक्ता ठाकुर चंदन सिंह ने एक बार फिर से अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठने का फैसला किया है.

रविवार को ठाकुर चंदन सिंह ने बताया कि उनके द्वारा प्राचार्य को अनिश्चितकालीन धरना पर बैठने के लिए मांगी गई लिखित अनुमति को प्राचार्य द्वारा अस्वीकृत कर दिया गया जिसके बाद ठाकुर चंदन सिंह ने प्राचार्य डॉ. रामनरेश पंडित पर नाराजगी जाहिर करते हुए सरकार व कॉलेज प्रशासन पर आंदोलन को दबाने का आरोप लगाया है. इस पूरे मामले पर ठाकुर चंदन सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि अनुमति नहीं मिलने के बावजूद वह 24 मई से अनिश्चितकालीन धरना पर बैठेंगे, चाहे इसके लिए उन्हें जेल ही क्यों ना जाना पड़े. छात्रों के भविष्य के लिए आंदोलन बेहद जरूरी हो गया है.



आपको बता दें कि कॉलेज में करीब 10 हजार नामांकित छात्र छात्राओं के बीच केवल एक दर्जन अध्यापक हैं. कॉलेज में पर्याप्त संसाधन उपलब्ध होने के बावजूद मानव संसाधन के अभाव में पठन-पाठन वर्षों से ठप पड़ा है.

आपको यह भी बता दें कि ठाकुर चंदन सिंह ने करीब 5 माह पूर्व दिसंबर में आमरण अनशन किया था लेकिन उन्हें प्रशासन द्वारा जबरन हटा दिया गया था. आंदोलन के 5 माह बीत जाने के बाद भी अब तक रिक्त पड़े पदों को नहीं भरा गया है. इस कारण आगामी 24 मई को वह फिर से महाविद्यालय के प्रांगण में छात्रों के भविष्य के लिए अनशन पर बैठने जा रहे हैं.


© Sitamarhi LIVE | Team.



Comment Box