सोशल मीडिया, पेड न्यूज पर विशेष नजर : डीएम

0

लोकसभा चुनाव के दौरान सीतामढ़ी में ड्रोन कैमरे से निगहबानी होगी, इतना ही नहीं जरुरत पड़ी तो हेलीकॉप्टर का भी सहारा लिया जाएगा। बूथों पर सशस्त्र बल की तैनाती होगी। इसके लिए बाहर से सशस्त्र बल की 16 कंपनियां सीतामढ़ी पहुंच रही हैं।


सोमवार को समाहरणालय में आयोजित प्रेस कॉंफ्रेंस में डीएम सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. रणजीत कुमार सिंह और एसपी अनिल कुमार ने बताया कि मतदान स्वच्छ, निष्पक्ष और शांतिप्रिय तरीके से होगा। जिले में आदर्श आचार संहिता लागू हो है। इसके साथ ही इलाके में धारा 144 लागू हो गई है। इसके तहत धरना, प्रदर्शन, जुलूस और सभा पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। डीएम ने कहा कि इसका सख्ती से पालन किया जा रहा है। नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। चुनाव को लेकर अलग-अलग कोषांग का गठन कर अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है।


डीएम ने बताया कि प्रत्याशियों की पल-पल की गतिविधि पर प्रशासन की नजर रहेगी। राजनीतिक दल, प्रत्याशी और स्टार प्रचारकों की सभा और कार्यक्रम पर खास नजर रखी जाएगी। इसके लिए प्रशासन द्वारा वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। सोशल मीडिया और पेड न्यूज पर नजर रखी जाएगी। इसके लिए एमसीएमसी कमेटी का गठन किया गया है। चुनाव अवधि तक नेपाल के एफएम की फ्रीक्वेंसी कम कराई जाएगी।

डीएम ने बताया कि अगर किसी अखबार या टीवी चैनल पर वैसी खबर चलती है जिससे प्रत्याशी विशेष को फायदा पहुंचता है तो उसे विज्ञापन मानते हुए उस मद की राशि प्रत्याशी के खर्च में जोड़ी जाएगी। बताया कि प्रत्याशी 70 लाख से अधिक की राशि खर्च नहीं कर सकते हैं। खर्च की गई राशि छिपाने पर जीतने के बाद भी प्रत्याशी की सदस्यता रद्द हो जाएगी। प्रत्याशियों के लिए खर्च की राशि छिपाना आसान नहीं होगा। चुनाव अवधि में 50 हजार तक के ट्रांजेक्शन पर नजर रहेगी। दस लाख रुपये मिलने पर आयकर विभाग को सूचना दी जाएगी।


(डीएम, फ़ाइल फ़ोटो)

डीएम ने बताया कि रात दस बजे से सुबह छह बजे तक लाउड स्पीकर के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा रहेगा। चुनाव के दौरान किसी भी धार्मिक स्थल या सरकारी भवन का उपयोग नहीं किया जाएगा। मतदान की प्रक्रिया संपन्न होने तक रोजाना विभिन्न कोषांगों की बैठक होगी। बताया कि निर्वाचन आयोग द्वारा टॉलफ्री नंबर और एप जारी किया गया है, जहां से किसी भी तरह की जानकारी ली जा सकती है या फिर शिकायत की जा सकती है।

इस बार सीतामढ़ी जिले में शत-प्रतिशत मतदान का रिकॉर्ड बनाना जिला प्रशासन का लक्ष्य है। मौके पर उप निर्वाची पदाधिकारी विनोद कुमार व डीपीआरओ परिमल कुमार मौजूद थे।

Text Source:- Dainik Jagran.



Comment Box