सुदर्शन धाम में संगीतमय राम कथा से भाव विभोर हुए श्रद्धालु | सीतामढ़ी लाइव

0

सुदर्शन धाम मुबारकपुर मां जगतारिणी शक्तिपीठ रामजानकी मठ के मध्य प्रांगण में सोमवार को 11 दिवसीय पंच कुंडीय रुद्र महायज्ञ के तत्वावधान में त्रिदिवसीय संगीतमय राम कथा का आयोजन दूसरे दिन किया गया। दूसरे दिन की कथा का उदघाटन बीडीओ अमर कुमार, पीके दर्शन, रुद्रेश कुमार सिंह, शैलेंद्र कुमार सिंह, बैद्यनाथ सिंह, मोहन पंडित ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

आयोजनकर्ता एसपी अमरकेश डी को गीता भेंट करते हुए

मुख्य संरक्षक रुद्रेश कुमार सिंह ने पुलिस अधीक्षक डी अमरेश को शॉल व गीता से सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने आचार्य सुदर्शनजी महाराज का माला,पट्टीका पहनाकर स्वागत करते हुए आज की कथा का आरंभ करने का आग्रह किया। कथा आरंभ करते हुए आचार्य श्री सुदर्शन जी महाराज ने बाबा भोलेनाथ की आरती वंदना से कार्यक्रम की शुरुआत की। वंदना के क्रम में पवनसुत हनुमान एवं भगवान श्री कृष्ण के भजनों की प्रस्तुति हुई। जिनके बोल रहे “संकट से मुझ को बचाना, पवनसुत मुझ को बचाने आना एवं भक्तों की भीड़ में मधुबन की नीर में, “आ कन्हैया आ, जरा नाच के दिखा आदि. आचार्य श्री ने वंदना के बाद कथा का आगाज करते हुए भगवान श्री राम एवं भाइयों के नामकरण संस्कार एवं शिक्षा संस्कार पर विशेष प्रकाश डाला।


कथा सुनते हुए भक्तजन

कथा के क्रम को आगे बढ़ाते हुए आचार्य श्री ने मानस के हृदय स्थल पुष्प-वाटिका प्रभु श्री राम धनुष भंग प्रसंगो से जुड़े अनेक भजनों की प्रस्तुति मंच से हुई, जिनमें मुख्य रूप से “रघुवर को देख सिया बाबरी बनी, बोले धक -धक -धक” तथा “कैसे मैं छुऊँ चरनिया हे” आदि। जब आचार्य श्री ने इन भजनों का गायन शुरू किया तो पूरा वातावरण राममय हो गया और दर्शक भाव् विभोर हो गए। मौके पर रीगा चीनी मिल के जी एम पंडित अमर शर्मा, रामबाबू राय, दिगंबर झा, गंगा प्रसाद सिंह, रामेकवाल सिंह, अजय सिंह, कन्हाई पासवान,वीरेंद्र सिंह, चंद्रचूड़ सिंह, पिटू सिंह, मोनू सिंह, अभिषेक कुमार व् मिडिया प्रभारी संजीव कुमार सिंह समेत हजारों श्रद्धालु उपस्थित थे।

मंदिर प्रांगण में बनेगी सरस्वती मंदिर :-


मेजरगंज : मुबारकपुर स्थित 11 दिवसीय रूद्र महायज्ञ में बिहार पब्लिक एसोसिएशन के सचिव पवन कुमार दर्शन ने मुबारकपुर एवं चैनपुर को एजुकेशन का हब बताया। उन्होंने कहा कि यहां मां सरस्वती की प्रतिमा एवं मंदिर उनके निजी कोष से बनाया जाएगा। राम जानकी मंदिर के प्रांगण में यज्ञ की पूर्णाहुति के बाद युद्ध स्तर पर कार्य शुरू कर दी जाएगी। चहारदीवारी एवं मुख्य द्वार का निर्माण भी वे निजी कोष से करवाएंगे। इस अवसर पर महंत शत्रुध्न दास पूजा समिति के अध्यक्ष शैलेंद्र कुमार सिंह, बलराम सिंह, रामानंद सिंह, अजय सिंह, राजीव रंजन, पंकज सिंह, रामबरन राम, अरविद सिंह, महंत दास सहित दर्जनों लोग शामिल थे।



Comment Box