सीतामढ़ी से महिला चिकित्सक किडनैप, मधुबनी से पुलिस ने किया बरामद

0
95

सीतामढ़ी. बिहार में अपराधियों के हौसले लगातार बुलंद हो रहे हैं. ताजा मामला सीतामढ़ी (Sitamarhi) का है जहां के रीगा थाना क्षेत्र के चंडीहा पेट्रोल पंप के समीप से एक महिला डॉक्टर (Lady Doctor) को अगवा कर लिया गया.

आयुष  महिला चिकित्सक डेजी जायसवाल का बुधवार को अपहरण कर लिया गया था. अपहरण के बाद महिला चिकित्सक को बदमाश उन्हीं की कार से मधुबनी की ओर भाग रहे थे, इसी बीच मधुबनी के बेनीपट्टी पुलिस ने अपहर्ताओं को पकड़ लिया साथ ही महिला चिकित्सक को भी बरामद कर लिया.


घटना बुधवार की शाम लगभग साढ़े सात बजे की है. बताया जाता है कि महिला चिकित्सक रीगा में स्थित अपने निजी नर्सिंग होम जा रही थीं इसी बीच इस घटना को अंजाम दिया गया. महिला चिकित्सक के पति डॉक्टर पीयूष कुमार सीतामढ़ी सदर अस्पताल में पदस्थापित हैं.

मुक्त होने के बाद महिला चिकित्सक डेजी ने अपने पति को फोन कॉल करके अपने अपहरण की जानकारी दी, हालांकि इस अपहरण के पीछे कई दूसरे तरह की बाते चर्चा में हैं.

रीगा थाना पुलिस के अनुसार महिला डॉक्टर अपने ड्राइवर के साथ रीगा स्थित अपने क्लिनिक से कार से घर जा रही थीं. थोड़ी दूर निकलने पर दो लोगों ने कार को रोका और चालक को कब्जे में लेकर डॉक्टर सहित कार लेकर पुपरी की ओर भागने लगे.

आगे जाकर दोनों ने डॉक्टर के चालक को नीचे उतार दिया। फिर एक अपहर्ता गाड़ी चलाने लगा और दूसरा डॉक्टर को अपने कब्जे में रखे हुए था. अपहरण की सूचना मिलने पर सीतामढ़ी एसपी द्वारा मधुबनी एसपी को इसकी जानकारी दी गई.

मधुबनी एसपी के निर्देश पर बेनीपट्टी पुलिस हरकत में आयी. इलाके में पुलिस निगरानी और गश्त बढ़ा दी गई. इसी दौरान बसैठ से मधवापुर जाने वाली डीकेबीएम पथ पर चानपुरा मोड़ के निकट एक  गाड़ी आते दिखी.

बेनीपट्टी थानाध्यक्ष महेंद्र कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम ने गाड़ी रोकी. पुलिस को देख दोनों अपहर्ता भागने की कोशिश करने लगे लेकिन पुलिस टीम ने उन्हें मौके पर ही दबोच लिया और मौके से डॉक्टर को भी मुक्त करा लिया गया.

सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने मामले को लेकर जानकारी देते हुए बताया है कि महिला चिकित्सक को बेनीपट्टी पुलिस ने अपहरकर्ता से मुक्त करा लिया गया है. महिला चिकित्सक सकुशल हैं.

Input : Rakesh Ranjan, News 18.



Comment Box