‘सीतामढ़ी लाइव’ ने बच्चे को दादा से बीस मिनट में मिलाया

0

सोशल मीडिया फेसबुक पर सीतामढ़ी लाइव नामक पेज के माध्यम से एक भटका हुआ बच्चा 20 मिनट में अपने अभिभावक से मिल पाया.

गुरुवार को दोपहर में एक बच्चा भटक कर स्थानीय पत्रकार अमित कुमार को मिला जिसके बाद बच्चे को स्थानीय जानकी विद्या निकेतन नामक स्कूल में स्कूल के प्रबंधक प्रगति गौरव ने अपने पास रख लिया. प्रगति गौरव ने सीतामढ़ी लाइव को फोन कर इसकी सूचना दी तथा फोटो को पोस्ट करने के लिए कहा, सीतामढ़ी लाइव द्वारा फोटो पोस्ट करने के तकरीबन 10 मिनट के अंदर में बच्चे के अभिभावक का पता चल गया. बच्चे के दादा ने बताया कि बच्चे का नाम निष्ठा है और वहां स्कूल बस में चढ़ा था लेकिन भटक गया. बच्चे के दादा अपने पोते को मिलकर काफी प्रसन्न हुए और स्कूल के प्रबंधक प्रगति गौरव का धन्यवाद किया जिन्होंने उसने काम में मदद की.


दरअसल, सोशल मीडिया के बढ़ते दुरुपयोग के कारण लोगों में ऐसी धारणा बन गई है कि यह नकारात्मक प्रभाव छोड़ता है. कई मायनों में यह सत्य भी है लेकिन के कुछ फायदे भी हैं. उन्ही फायदों में से एक उदाहरण आज आपको देखने को मिला है.



Comment Box