सीतामढ़ी के डीएम का तबादला, M Ramachandrudu होंगे नए डीएम

1

अभी अभी एक बड़ी खबर आ रही है सीतामढ़ी के जिलाधिकारी डॉ रणजीत कुमार सिंह का तबादला कर दिया गया.


सामान्य प्रशासन विभाग, पटना ने अधिसूचना जारी करते हुए सीतामढ़ी जिला अधिकारी का तबादला कर दिया है.


सामान्य प्रशासन विभाग पटना द्वारा मंगलवार को इसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है. आपदा प्रबंधन विभाग के रामचंद्रुडू सीतामढ़ी के नए डीएम बनाए गए है. वहीं सीतामढ़ी के डीएम को आपदा प्रबंधन विभाग, पटना भेजा गया है.



1 COMMENT

  1. बोखरा(सीतामढी)सं.सःप्रखंड के चकौती पंचायत के बड़ी सौरिया गाँव स्थित वार्ड तीन निवासी सीमा कुमारी पति चंद्रिका प्रसाद गुप्ता ने सीडीपीओ,आईसीडीएस के प्रधान सचिव एवं जिला पदाधिकारी के यहाँ एक आवेदन भेंज कर आंगनवाड़ी केन्द्र संख्या-104 पर गलत तरीके से फर्जी प्रमाण पत्र पर कार्यालय के कर्मियों की मिलीभगत से तत्कालीन सीडीपीओ के द्वारा मीरा कुमारी की चयन कर दिए जाने की शिकायत करते हुए चयन प्रक्रिया को निरस्त किए जाने एवं दोषियों के बिरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।संबंधित अधिकारियों के यहाँ भेजे गए आवेदन में आवेदिका सीमा ने बतायी है, की फर्जी तरीके से आंगनवाड़ी सेविका के चयन किए जाने के बिरुद्ध उसके द्वारा पटना उच्च न्यायालय में परिवाद पत्र दायर कर दिया गया।इसके बावजूद चयन किए गए सेविका को प्रशिक्षण में भेंजा गया है।जबकि न्यायालय में लंबित मामले का रीड पत्र बालविकास परियोजना कार्यालय में उपलब्ध है।दिए गए आवेदन पत्र में बताया गया है, की वह आंगनवाड़ी केन्द्र संख्या-104 पर सेविका पद के लिए आवेदन की थी।और उसका नाम फाइनल मेघा सूचि में प्रथम स्थान पर अंकित था।बाबजूद दूसरे स्थान पर रहने वाली मीरा कुमारी की बहाली कर दिया गया।उक्त फर्जी चयन के बिरुद्ध उच्च न्यायालय पटना में परिवाद पत्र दायर कर दी।मामला न्यायालय में लंबित रहने के बावजूद पुनः तीसरे स्थान पर रहने वाली रुन्ना कुमारी का चयन कर दिया गया एवं उसे प्रशिक्षण में भी भेंज दिया गया।जो पूरी तरह से फर्जी है।बताया की मामला न्यायालय में लंबित रहने के बावजूद चयन प्रक्रिया किया जाना न्यायालय की अवमानना है।आवेदिका सीमा ने बताया की उक्त केन्द्र पर मोटी रकम लेकर चयन प्रक्रिया किया गया है।जो सरासर गलत है।

Comment Box