वाहन चालक ने लगाया मारपीट का आरोप, डॉ. अर्जुन राय ने आरोपों से किया इनकार

0

पूर्व सांसद और सीतामढ़ी लोकसभा क्षेत्र से राजद प्रत्याशी डॉ अर्जुन राय व उनके समर्थकों पर मारपीट करने का आरोप लगा है.

रविवार को नगर थाने में आवेदन देकर उनके वाहन चालक ने मारपीट का आरोप लगाया है. आरोप वाहन चालक सीतामढ़ी शहर के मेहसौल पूर्वी वार्ड 3 निवासी मकसूद आलम ने लगाया है. इस मामले पर नगर थानाध्यक्ष ने बताया कि आवेदन प्राप्त हुआ है और जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.



वाहन चालक ने बताया कि वह पूर्व सांसद के यहां वर्ष 2014 से नौकरी कर रहा है. शुरुआती दौर में ₹8000 मानदेय मिलता था. वर्ष 2017 में इसे बढ़ाकर ₹10000 कर दिया गया. लेकिन इसी बीच राजद का टिकट मिलने पर चुनाव प्रचार के लिए मकसूद ने 13 – 13 सो रुपए प्रतिदिन की दर से पूर्व सांसद को दो वाहन और उपलब्ध करवाया. 13 अप्रैल तक मकसूद का मानदेय और दोनों वाहन का भाड़ा कुल ₹41000 हो गया. रविवार को वाहन मालिक रहमतुल्लाह और अजय कुमार के साथ में रुपए मांगने पूर्व सांसद के औद्योगिक क्षेत्र स्थित चुनाव कार्यालय गया जहां पूर्व सांसद ने गाली गलौज की. साथ ही आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करते हुए समर्थकों को गोली मरवा कर नेपाल में फेंकवा देने का आदेश दिया. विरोध करने पर राजद प्रत्याशी ने गाली गलौज करते हुए पीटा. उनके समर्थक मनोज राय ने मकसूद के कनपटी में पिस्टल सटा कर भाग जाने की धमकी भी दी. चुनाव कार्यालय में मौजूद जलाल और शमशेर के हस्तक्षेप से जान बची.


इस संबंध में सीतामढ़ी लाइव ने अर्जुन राय से फोन पर बात की तो उन्होंने कहा कि यह विपक्ष की चाल है. हम लोग जमीनी नेता है पर विपक्ष हमें बदनाम करने पर लगा हुआ है. डॉ. अर्जुन राय ने ड्राइवर के सभी आरोपों से सरासर इंकार कर दिया और कहा कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है, यदि हुई है तो सबूत दें.


© Sitamarhi LIVE | Team



Comment Box