रेलवे स्टेशन पर गंदगी फैलाने पर वसूला जाएगा जुर्माना

0

रेलवे स्टेशन पर गंदगी फैलाना महंगा पड़ सकता है। अब न केवल अपील के जरिए लोगों को साफ-सफाई रखने के लिए जागरूक किया जाएगा, बल्कि अभियान चलाकर ऐसे लोगों से जुर्माने का बसुला जाएगा।

सीतामढ़ी रेलवे परिसर में गंदगी फैलाते पकड़े गए तो 300 से 500 रुपये तक का जुर्माना देना होगा या 6 महीने से 1 साल तक की कैद हो सकती है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के नए नियमों में जुर्माना के साथ इसे सख्ती से लागू करने की बात कही गई है। टिकट चेकिंग स्टाफ व आरपीएफ को रेल परिसर को गंदगी से मुक्त करने का जिम्मा सौंपा गया है।


इस संबंध में स्टेशन अधीक्षक जगदंबा प्रसाद ने बताया कि आदेश मिल चुका है। अब स्टेशनों पर नोटिस बोर्ड लगा दिया गया है। रेलवे ने स्वच्छता अभियान को ध्यान में रखते हुए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। बताया कि अब रेलवे के द्वारा जारी नोटिफिकेशन के बाद कोई गंदगी फैलाता रेलवे परिसर व प्लेटफार्म पर आ गया, तो उसे न केवल जुर्माना देना पड़ सकता है, बल्कि जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है।

यात्री रेलवे परिसर में गंदगी फैलाने और रेल पटरी के किनारे खुले में शौच करने आदि से बाज नहीं आ रहे हैं। हाल ही में रेलवे के अधिकारी ने सीतामढ़ी में जांच किया था, जिसमें कई कमियां पाई गई थी। लोगों को जागरूक करने के लिए स्टेशन परिसर में बोर्ड लगाने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है।


प्रतिदिन देनी होगी रिपोर्ट

इस संबंध में रोजाना चेकिंग स्टाफ अधिकारियों को रिपोर्ट भेजना होगा। उन्हें रिपोर्ट में बताना होगा कि कितने लोगों का चालान काटा गया। यह भी जानकारी देना होगा कि सफाई रखने के लिए स्टेशन पर क्या-क्या इंतजाम किये गए हैं। जुर्माना वसूलने के साथ-साथ लोगों से अपील की जाएगी कि दोबारा ऐसा गलती नहीं करें।

टीटीई व आरपीएफ वसूलेंगे फाइन

रेलवे के जारी निर्देश पर ट्रेन के साथ-साथ प्लेटफार्म पर अब टीटी व आरपीएफ स्क्वायड टीम तैनात रहेंगे। इनके द्वारा ट्रेन से लेकर प्लेटफार्म पर नजर रखी जाएगी। ट्रेन से लेकर परिसर की सफाई को लेकर प्लान तैयार किया गया है। यानी कि कोच के अंदर से लेकर प्लेटफार्म पर खाने-पीने के सामान के छिलके फेंकने समेत अन्य गंदगी फैलाने वाले यात्री दंडित होंगे।

Imput : Dainik Bhaskar.



Comment Box