मतदान कर्मियों का प्रशिक्षण कल से, मास्टर ट्रेनरों को मिले टिप्स

0

लोकसभा चुनाव के तहत मतदान कर्मियों का प्रशिक्षण 25 अप्रैल से शुरू होगा। मतदान कर्मियों की ट्रेनिग को लेकर डीएम ने मंगलवार को समाहरणालय स्थित विमर्श कक्ष में सभी मास्टर ट्रेनरों टिप्स दिया.

डीएम ने मास्टर ट्रेनरों को ट्रेनिग के दौरान मोबाइल नहीं बंद रखने की नसीहत दी। डीएम ने ट्रेनिग की गुणवत्ता पर दिया जोर और कहा वे खुद ट्रेनिग में शामिल होंगे। साथ ही प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे कर्मियों का टेस्ट लेंगे। अगर टेस्ट में फेल होते है तो वैसे कर्मियों को दोबारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। डीएम ने कहा कि मास्टर ट्रेनर की भूमिका महत्वपूर्ण है। डीएम ने पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के जरिए सभी मास्टर ट्रेनर को विस्तार से बताया कि क्या करना और क्या नही करना है। डीएम ने सभी मास्टर ट्रेनर को निर्देश दिया कि निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के आलोक में सभी मतदान कर्मियों को उन्हें अद्यतन जानकारी देते रहेंगे, ताकि जिले में निर्वाचन प्रक्रिया को सफलता पूर्वक संम्पन्न किया जा सके। उन्होंने कहा कि इवीएम व वीवीपैट से संबंधित सभी अनिवार्य जानकारियों से मतदानकर्मियों को पूरी तरह से अवगत होना चाहिए।


डीएम ने कहा कि इवीएम व वीवीपैट की प्रथम विधानसभा वार रेंडमाइजेशन किया जा चुका है। अब शीघ्र ही प्रेक्षक व राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में सेकंड रेंडमाइजेशन मतदान केंद्र वार होगा।

मौके पर एडीएम मुकेश कुमार, अपर समाहर्ता अवधेश राम डीआईओ मुकेश कुमार झा व डीपीआरओ परिमल कुमार आदि उपस्थित थे।


Input : Dainik Jagran.




Comment Box