पैंथर मोबाइल के जवानों की कार्यशैली की होगी जांच

0

शहर में लगातार बढ़ रहे आपराधिक वारदातों को लेकर पैंथर मोबाइल के जवानों की कार्यशैली पर उठते सवालों के बीच एसपी अनिल कुमार ने मामले की जांच का आदेश दिया है.

एसडीपीओ सदर डॉ. कुमार वीर धीरेंद्र को मामले की जांच का आदेश दिया गया है। एसपी ने बताया कि जांच में दोषी पाए जाने पर जवानों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उधर, तीन जून को शहर के मेन रोड स्थित मनोज सर्जिकल में हुई फायरिग मामले की पुलिसिया तहकीकात लगातार जारी है। नगर थाना पुलिस की टीम बदमाशों का पता लगाने में लगातार छापेमारी कर रही है। इसी बीच पुलिस ने दो और युवकों को हिरासत में लिया है। जिन से पूछताछ जारी है.

बताते चलें कि तीन जून की रात तकरीबन सवा नौ बजे बदमाशों ने शहर के मेन रोड किरण चौक स्थित मनोज सर्जिकल में फायरिग की थी। इस दौरान दवा कारोबारी सह जिला केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष मनोज कुमार और दुकान के कर्मी समेत अन्य लोग बाल-बाल बच गए थे। लेकिन, उक्त दुकान पर दवा खरीदने आए चिकित्सक डॉ. सुभाष चंद्र सरकार गोली लगने से गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। जिन्हें इलाज के लिए शहर के रिग बांध स्थित नंदीपत मेमोरियल हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया था। फिर मंगलवार की सुबह शहर से सटे मधुबन गांव में सीतामढ़ी शहर के मेन रोड स्थित पूनमश्री साड़ी शो रूम के संचालक रजनीश कुमार पर बदमाशों ने फायरिग की थी। इसमें व्यवसायी बाल-बाल बच गए थे।


महज दस घंटे के भीतर बदमाशों ने दो-दो वारदातों को अंजाम देकर पुलिस को बड़ी चुनौती दी थी। इधर, इन घटनाओं के बाद से व्यवसायियों में दहशत और आक्रोश था। गुरुवार को सांसद सुनील कुमार पिटू के साथ शहर के व्यवसायियों ने एसपी से मिलकर कार्रवाई और सुरक्षा की मांग की थी। एसपी ने अब तक की कार्रवाई से अवगत कराते हुए शीघ्र ही बदमाशों को दबोचने का आश्वासन दिया था। इधर, मनोज सर्जिकल पर हुई फायरिग के बाद लोग पैंथर मोबाइल के जवानों पर गश्ती नहीं करने और अवैध वसूली में लगे रहने का आरोप लगाया था। इसके आलोक में एसपी ने एसडीपीओ को मामले की जांच कर रिपोर्ट मांगी है.

Sources : Dainik Jagran.





Comment Box