पच्चीस से 27 जून तक भारत के दौरे पर आ रहे पोम्पियो ने जयशंकर से बात करके उन्हें विदेश मंत्री पर नियुक्ति मिलने की बधाई दी.

0

वाशिंगटनः अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो आज दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं. भारत दौरे से पहले पोम्पियो ने भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर से बात की और दोनों देशों की द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने के लिए भारत के साथ मिलकर काम करने की ट्रंप प्रशासन की दृढ प्रतिबद्धता को रेखांकित किया. एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी.
पच्चीस से 27 जून तक भारत के दौरे पर आ रहे पोम्पियो ने जयशंकर से बात करके उन्हें विदेश मंत्री पर नियुक्ति मिलने की बधाई दी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोर्गन ओर्टागस ने यह जानकारी दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जयशंकर को विदेश मंत्री बनाने के करीब तीन सप्ताह बाद पोम्पियो ने बधाई देने के लिए फोन किया है. पोम्पियो की यह यात्रा प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्ंरप के बीच जी -20 शिखर सम्मेलन (28-29 जून) से इतर होने वाली बैठक से पहले प्रस्तावित है.
अपने भारत मिशन की जानकारी देते हुए पोम्पियो ने कहा कि उनका वास्तव में मानना है कि दोनों देशों के पास अपने लोगों, हिंद-प्रशांत क्षेत्र और दुनिया की भलाई के लिए एक साथ आगे बढ़ने का अद्वितीय मौका है. पोम्पिओ 24 से 30 जून तक भारत, श्रीलंका, जापान और दक्षिण कोरिया की यात्रा करेंगे.

पोम्पिओ ने कहा कि ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिका रक्षा सहयोग को एक नए आयाम पर लेकर गया है, उन्होंने हिंद-प्रशांत के लिए साझे दृष्टिकोण को मजबूत किया है और आतंकवाद के लिए पाकिस्तान के अस्वीकार्य सहयोग के खिलाफ कड़ा रुख अपनाया है.


पोम्पिओ ने कहा कि अब ट्रम्प और मोदी प्रशासन के पास ‘‘इस विशेष साझेदारी को और आगे ले जाने का अद्वितीय अवसर’’ है. उन्होंने कहा कि उनके पास अपने नए समकक्ष जयशंकर के रूप में मजबूत साझीदार है. जयशंकर अमेरिका में भारत के राजदूत भी रहे हैं.



Comment Box