किसी भी कीमत पर संविधान से छेड़छाड़ नहीं : नीतीश

0

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहा कि बिहार और केंद्र सरकार गरीबों के लिए काम कर रही है। धरती पर कोई ऐसा पैदा नहीं लिया है जो भारत के संविधान के साथ छेड़छाड़ करे। किसी भी कीमत पर आरक्षण से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। नए कानूनों के संशोधन के तहत बगैर दलित और पिछड़ों के आरक्षण में छेड़छाड़ किए सवर्ण गरीबों के लिए केंद्र सरकार ने दस फीसद आरक्षण दिया। इसके बाद केंद्र सरकार के आरक्षण को बिहार में लागू किया। लेकिन, विपक्ष के लोग झूठा प्रचार करके लोगों को गुमराह करने का काम कर रहे हैं।


मुख्यमंत्री शुक्रवार को बाजपट्टी प्रखंड मुख्यालय स्थित एसआरपीएन हाईस्कूल के प्रांगण में एनडीए प्रत्याशी सुनील कुमार पिटू के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 15 वर्षों तक एक ही परिवार के लोगों ने बिहार में शासन किया। इस दौरान उस परिवार के लोगों ने केवल जनता को ठगने का काम किया है। खासकर अल्पसंख्यक और दलित समाज के वोटरों को बरगला कर वोट लेकर सत्ता में आए, लेकिन किसी के सम्मान के लिए कोई काम नहीं किया। आज मदरसा के शिक्षकों को भी शिक्षकों के समान वेतन मिल रहा है।



सीएम ने कहा कि उन्होंने दलित, पिछड़ा और अति पिछड़ा समुदाय के लोगों के बच्चों को पढ़ाई के लिए समुचित व्यवस्था दी। इसके तहत पहली से 12 वीं कक्षा तक की छात्राओं को पोशाक राशि, माध्यमिक कक्षा के छात्र-छात्राओं को साइकिल की राशि और उससे आगे पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के तहत चार लाख रुपये तक की सहायता राशि प्रदान की जा रही है। आज हर गांव तक बिजली पहुंच रही है।

उन्होंने राजद पर तंज कसते हुए कहा कि जब लालटेन की सरकार थी तो बिजली तार की चोरी हो जाती थी तो कहीं लोग बिजली के तार पर कपड़े सुखाते थे। बिजली गांव तो क्या शहर तक भी नहीं पहुंच पाती थी। लोग कई दिनों तक बिजली का इंतजार करते रहते थे। अब सभी जगह बिजली उपलब्ध है, लालटेन की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने पुल-पुलियों पर चर्चा की। कहा कि बाढ़ आने पर सीतामढ़ी का संपर्क अन्य इलाकों से टूट जाता था। कटौझा के पास पुल नहीं होने के कारण बाढ़ के दिनों में लोग ट्रैक्टर की सवारी कर के आते- जाते थे। उनकी सरकार ने सबसे पहले उस पुल का निर्माण कराया। इसके अलावा गांव-गांव तक सड़कें बनवाई गई।


उन्होंने केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि उज्जवला योजना से करोड़ों गरीब परिवारों को गैस का कनेक्शन मिला। आयुष्मान योजना के तहत करोड़ों गरीब परिवारों को पांच लाख रुपये तक का इलाज निशुल्क किया जा रहा है। सीतामढ़ी जिला बिहार का सबसे पहला ओडीएफ जिला बन गया है। इससे पूरा बिहार गौरवान्वित हुआ। सीएम ने कहा कि पूरे प्रदेश में कानून का राज है। किसी भी अपराधियों को सत्ता का संरक्षण प्राप्त नहीं है। किसी प्रकार का अपराध करने पर सजा मिल रही है। हम न्याय के साथ विकास करने में विश्वास रखते हैं।

सभा को संबोधित करते हुए सांसद राम कुमार शर्मा ने कहा कि रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कुशवाहा समाज के लोगों के साथ अन्याय किया है। मुश्किल के दिनों में वे उपेंद्र कुशवाहा के साथ रहे हैं। लेकिन, पैसे के लालच में साजिश के तहत उनका टिकट काट दिया गया और पिछले चुनाव में उन्होंने जिसकी जमानत जब्त करा दी थी, उसके हाथ टिकट बेच दिया। कहा कि कुशवाहा ने पूरे बिहार की अपनी सीटें बेच दी। उपेंद्र कुशवाहा की गलती को कुशवाहा समाज कभी माफ नहीं करेगा।

विधान पार्षद देवेश चंद्र ठाकुर ने कहा कि सीतामढ़ी ही नहीं पूरे देश में मोदी की लहर है। जिप उपाध्यक्ष देवेंद्र साह ने कहा कि सीतामढ़ी ही नहीं सूबे की सभी 40 सीटों पर एनडीए की जीत होगी।

मौके पर विधायक डॉ. रंजू गीता, विधान पार्षद रामेश्वर कुशवाहा, पूर्व सांसद नवल किशोर राय, पूर्व विधायक खलील अंसारी, लोजपा जिलाध्यक्ष मोहन झा व जदयू जिलाध्यक्ष राणा रणधीर सिंह चौहान समेत दर्जनों लोग मौजूद थे।

Input : Dainik Jagran.




Comment Box