कार्यशाला में माताओं व शिशुओं के बेहतर देखभाल पर चर्चा | सीतामढ़ी लाइव

0

धार्मिक और आध्यात्मिक गुरुओं का माताओं व शिशुओं के बेहतर स्वास्थ्य को लेकर डीएम डॉ. रणजीत कुमार सिंह की अध्यक्षता में समाहरणालय के विमर्श कक्ष में एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया।


जिसमें डीएम ने कहा कि सामाजिक कुरीतियों और अंधविश्वास के कारण माताओं तथा बच्चों के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। धार्मिक गुरुओं का समाज में अच्छा प्रभाव होता है। धार्मिक गुरुओं की बातों को लोग ध्यान से सुनते है और अमल भी करते है। पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के द्वारा बताया गया कि कैसे धार्मिक गुरु बच्चों व माताओं के स्वास्थ्य को लेकर समाज को जागरूक कर सकते है। स्तनपान के संबंध में विभिन्न धर्मों की क्या राय है। एक गर्भवती महिला के देखभाल आदि के संबंध में विभिन्न धर्मों के मत के बारे में बताया गया।



बताया गया कि प्रशासन सभी धर्म बच्चों व माताओं के स्वास्थ्य को लेकर संवेदनशील है। बाल विवाह के प्रति भी सभी धर्म का मत एक है और सभी किसी न किसी रूप में इसका विरोध भी करते है। पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से विभिन्न धर्म गुरुओं को बच्चों व माताओं के अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रारंभ से ही उठाए जाने वाले सभी कदमों की विस्तार से जानकारी दी गई। वहीं सभी को इससे संबंधित बुकलेट भी दिया गया।



Comment Box