गिरावट के साथ बंद; Nestle, HDFC Bank व SBI के शेयर लुढ़के

0
30

आरबीआई द्वारा नीतिगत दरों में बदलाव नहीं किए जाने और मौद्रिक रुख को उदार बनाए रखने के बावजूद घरेलू शेयर बाजार शुक्रवार को मामूली गिरावट के साथ बंद हुए। BSE का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 132.38 अंक यानी 0.25 फीसद लुढ़ककर 52,100.05 अंक के स्तर पर बंद हुआ। इसी तरह NSE Nifty 20.10 अंक यानी 0.13 फीसद टूटकर 15,670.30 अंक के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी पर नेस्ले, एचडीएफसी बैंक, एसबीआई, एक्सिस बैंक और ICICI Bank में सबसे ज्यादा गिरावट दर्ज की गई। दूसरी ओर, Tata Motors, Grasim Industries, Bajaj Finserv, Coal India और ONGC के शेयर में सबसे ज्यादा तेजी देखने को मिली।

बैंक और एफएमसीजी के अलावा सभी सेक्टोरल इंडिक्स बढ़त के साथ बंद हुए। BSE Midcap और Smallcap indices में भी उछाल देखने को मिला।


Sensex पर Nestle के शेयरों में सबसे ज्यादा 1.97 फीसद टूट देखने को मिली। इसके साथ ही SBI, HDFC Bank, ICICI Bank, Axis Bank, Titan, Hindustan Unilver Limited, Reliance, डॉक्टर रेड्डीज, बजाज ऑटो, एशियन पेंट्स, एचसीएल टेक, इन्फोसिस, कोटक महिंद्रा बैंक, सन फार्मा और आईटीसी के शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए।

Bajaj Finserv के शेयरों में सबसे ज्यादा 2.53 फीसद की बढ़त दर्ज की गई। इसी तरह ONGC, LandT, Bajaj Finance, HDFC, अल्ट्राटेक सीमेंट, टेक महिंद्रा, इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा (Mahindra and Mahindra), भारती एयरटेल (Bharti Airtel), मारुति, टीसीएस (TCS), एनटीपीसी और पावरग्रिड के शेयर हरे निशान के साथ बंद हुए।

रिलायंस सिक्योरिटीज के प्रमुख (रणनीति) बिनोद मोदी ने कहा कि फाइनेंशियल और खासकर बैंकों के शेयरों में गिरावट से प्रमुख शेयर बाजारों में करेक्शन देखने को मिला। उन्होंने कहा, आरबीआई द्वारा मुद्रास्फीति में धीमी वृद्धि के अनुमान के बाद बैंकों के शेयरों में मुनाफावसूली देखने को मिला।

इसके अलावा कमजोर वैश्विक संकेत से भी निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई।

शंघाई में शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए, तो दूसरी तरफ हांगकांग, टोक्यो और सिओल में स्टॉक मार्केट लाल निशान के साथ बंद हुए। यूरोपीय बाजारों में दोपहर के सत्र में गिरावट देखी जा रही थी।



Comment Box