हजारों सरकारी कर्मचारियों, पेंशनभोगियों को नए साल का तोहफा, अब मिलेगा इस योजना का लाभ

0
119

नए साल में सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को बहुत राहत मिलने वाली है। इस क्रम में हरियाणा सरकार ने एक महत्‍वपूर्ण निर्णय लिया है। इसके तहत नए साल में नई योजना का लाभ मिलना शुरू होगा। सीएम मनोहरलाल खट्टर ने कैबिनेट बैठक में यह घोषणा की है। अब राज्‍य के सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को कैशलैस हेल्‍थ स्‍कीम की सुविधा दी जाएगी। सरकार के इस फैसले से यहां करीब 18 लाख परिवारों को सीधा फायदा होगा। मालूम हो कि अभी तक जो व्‍यवस्‍था बनी हुई है, उसके अनुसार केवल कर्मचारियों एवं उनके आश्रितों के उपचार का व्‍यय ही सरकार वहन करती थी।

अब नई व्‍यवस्‍था में पेंशनर्स को भी लाभ के दायरे में लाया गया है। उनके आश्रितों को भी पात्रता होगी। इसके साथ ही व्‍यय की ऊपरी सीमा को भी समाप्‍त कर दिया गया है। मौजूदा नियम के अनुसार सरकार 5 लाख रुपए तक की राशि का भुगतान करती है। अब यह सीमा भी खत्‍म हो जाएगी। जो नया ड्राफ्ट जारी किया गया है उसके अनुसार कैशलेस इलाज आईटी पर आधारित होगा। यानी अब कर्मचारियों का डिजिटल डेटा बेस तैयार किया जाएगा।


इससे यह आसानी होगी कि कर्मचारियों, पेंशनर्स के ऑनलाइन वेरिफिकेशन में समस्‍या नहीं आएगी। वर्तमान में जो योजना है, वह आईटी आधारित नहीं है।

इसके चलते कर्मचारियों को उपचार पर मिलने वाली राशि में लंबा वक्‍त लग जाता है। क्‍योंकि उन्‍हें बिल आदि बनाना होते हैं, जमा कराना होते हैं। इस नई योजना में बिल आदि का सिस्‍टम ही समाप्‍त कर दिया जाएगा। इसके लिए लंबे समय से कर्मचारी वर्ग मांग उठा रहा था। कैशलेस योजना का फायदा केवल 6 रोगों में मिलेगा, जिनमें कार्डिअक इमरजेंसी, ब्रेन हेमरेज, कैंसर, इलेक्ट्रिक शॉक, कोमा, एक्‍सीडेंट आदि शामिल हैं। इस प्रणाली से कर्मचारियों के पीपीओ नंबर का भी वेरिफिकेशन होगा।



Comment Box