बहुत आसानी से खोल सकते हैं डाकघर बचत खाता, जानिए इसकी पूरी प्रक्रिया

0
158

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। इंडिया पोस्ट या डाक विभाग देश में डाक सेवाएं चलाता है, इंडिया पोस्ट में बचत खाता खोलने का विकल्प भी मिलता है। डाकघर मौजूदा समय में व्यक्तिगत/संयुक्त बचत खातों पर प्रति वर्ष 4 प्रतिशत ब्याज देता है।

एक एकल वयस्क या दो वयस्क केवल (संयुक्त ए या संयुक्त बी), एक नाबालिग की ओर से एक अभिभावक पोस्ट ऑफिस बचत खाता खोल सकता है। किसी व्यक्ति द्वारा एकल खाते के रूप में केवल एक ही खाता खोला जा सकता है। 


एक बचत खाते में न्यूनतम शेष राशि 500 बनाए रखना होता है। यदि वित्तीय वर्ष के अंत में 500 रुपये की शेष राशि का रखरखाव नहीं किया जाता है, तो प्रत्येक वित्त के अंतिम कार्य दिवस पर खाते से 100 रुपये का रखरखाव शुल्क काटा जाता है। वर्ष और खाता रखरखाव शुल्क में कटौती के बाद यदि खाते में शेष राशि शून्य हो जाती है, तो खाता खुद बंद हो जाता है। इसमें निकासी की न्यूनतम राशि 50 रुपये है, जबकि डाकघर बचत खाते के मामले में निकासी और जमा पर कोई अधिकतम सीमा नहीं है।

पोस्ट ऑफिस बचत खाते में ब्याज की गणना महीने के 10वें महीने और महीने के अंत के बीच न्यूनतम शेष राशि के आधार पर की जाती है। वित्त मंत्रालय द्वारा निर्धारित ब्याज दर पर प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में खाते में ब्याज जमा किया जाता है।

नजदीकी डाकघरों या इंडिया पोस्ट के पोर्टल पर जाकर डाकघर के बचत खाते के लिए आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। आवेदन पत्र को पूरी तरह से भरने के बाद, ग्राहक निकटतम डाकघर की शाखा पर जा सकते हैं और आवश्यक केवाईसी दस्तावेजों और पासपोर्ट आकार के फोटो के साथ भरे हुए फॉर्म को जमा कर सकते हैं। खाता खोलने के बाद ग्राहक इसे पोस्ट ऑफिस नेट बैंकिंग के माध्यम से ऑनलाइन एक्सेस कर सकते हैं।



Comment Box