मेहुल चोकसी की नागरिकता खत्म कर दी जाएगी, वह भारत प्रत्यर्पित होगा : एंटीगा के प्रधानमंत्री

0

एंटीगा के प्रधानमंत्री ने कहा, “यह ऐसा मामला नहीं है कि हम अपराधियों, वित्तीय अपराधों में फंसे लोगों को सुरक्षित ठिकाना उपलब्ध करवा रहे हों…”

एंटीगा सरकार ने कहा है कि जब 13,000 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के सिलसिले में भारत में वांछित हीरा व्यवसायी मेहुल चोकसी सारे कानूनी विकल्प इस्तेमाल कर चुका होगा, उसकी एंटीगा की नागरिकता खत्म कर दी जाएगी. नागरिकता खत्म हो जाने से उसे भारत प्रत्यर्पित किए जाने का रास्ता साफ हो जाएगा.
एंटीगा ऑब्ज़र्वर’ ने एंटीगा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन के हवाले से बताया, “प्रक्रिया के बाद उसे नागरिकता दे दी गई थी, लेकिन सच्चाई यह है कि उसकी नागरिकता खत्म कर दी जाएगी, और उसे भारत प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा, सो, अभी इसका उपाय है…”
एंटीगा के प्रधानमंत्री ने कहा, “यह ऐसा मामला नहीं है कि हम अपराधियों, वित्तीय अपराधों में फंसे लोगों को सुरक्षित ठिकाना उपलब्ध करवा रहे हों…”
गैस्टन ब्राउन ने कहा, “हमें प्रक्रिया को पूरा होने देना चाहिए… उसका मामला कोर्ट में है, और हमने भारत सरकार से कहा है कि अपराधियों के भी मौलिक अधिकार होते हैं, और चौकसी को भी अदालत जाकर अपना बचाव करने का हक है… लेकिन मैं आपको आश्वस्त करता हूं, जब वह अपने सारे कानूनी विकल्प इस्तेमाल कर चुका होगा, उसे प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा…”
विदेशमंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर ने एंटीगा द्वारा मेहुल चोकसी की नागरिकता खत्म किए जाने संबंधी ख़बरों पर कहा, “मेरे पास इस मामले में कोई जानकारी नहीं है… मैं इस पर टिप्पणी नहीं करना चाहूंगा.



Comment Box