सीएम के समीक्षा बैठक के बाद डीजीपी का एक्शन, रातोंरात रेड करने पहुंचे मुजफ्फरपुर

0

मुज़फ़्फ़रपुर में बढ़ते अपराध को लेकर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय खुद निरीक्षण करने मुज़फ़्फ़रपुर पहुच गए है.निरीक्षण के दौरान तिरहुत रेंज के डीआईजी रवींद्र कुमार, सिटी एसपी नीरज कुमार सिंह, मुख्यालय के कई पदाधिकारी व कई थानों के थानाध्यक्ष उपस्थित रहे.
जिले में बढ़े अपराध को लेकर शुक्रवार को डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने पुलिस अधिकारियों को जमकर फटकार लगाया.बढ़ते अपराध को लेकर डीआईजी से लेकर सिटी एसपी तक के रवैया से नाराजगी जाहिर की. साथ ही अपराध पर अंकुश लगाने को लेकर सभी को चेतावनी भी दी. खासकर शहरी क्षेत्र के थानेदारों को भी अपराध नियंत्रण के बिंदु पर जमकर डांट फटकार लगाई. डीजीपी के निशाने पर सिटी एसपी के अलावा अहियापुर थानेदार रहें.
डीजीपी ने बताया कि मुख्यमंत्री समीक्षा के उपरांत उनके निर्देश पर डीजी रैंक के सभी अधिकारी शुक्रवार को सूबे के विभिन्न जिले में औचक निरीक्षण कर रहे है. वे खुद मुजफ्फरपुर का निरीक्षण करने पहुंचे है. उन्होंने बताया कि नगर थाने पर करीब एक घंटे तक अपराध की समीक्षा की है.इस दौरान अहियापुर में सबसे अधिक अपराध(लूट, छिनतई) रिकॉर्ड किया गया है.
उन्होंने ने बताया कि जो थानेदार अच्छा काम करेगा,उसे पुरस्कृत किया जाएगा. वही जो अपराध नियंत्रण में विफल होगा,उसे दंडित किया जाएगा.निरीक्षण के दौरान तिरहुत रेंज के डीआईजी रवींद्र कुमार, सिटी एसपी नीरज कुमार सिंह, नगर प्रभारी ओमप्रकाश, काजी मोहम्मदपुर मो. सुजाउद्दीन, मिठानपुरा भगीरथ प्रसाद, अहियापुर सोना प्रसाद सिंह, ब्रह्मपुरा विश्वनाथ राम ,बेला राज कुमार व मुख्यालय के कई पदाधिकारी उपस्थित रहे.

अहियापुर थाने का किया निरीक्षण


टाउन थाने पर अपराध नियंत्रण का मंथन करने के बाद डीजीपी का काफिला अहियापुर थाना पहुंचा. जहां की स्थिति देखकर भड़क गए. इसके बाद अहियापुर थानेदार के चेम्बर में वर्ष 2019 में घटित अपराध की समीक्षा किया. समीक्षा के दौरान स्टेशन डायरी, रनिंग रजिस्टर, ओडी रजिस्टर, इंस्पेक्टर इंडेक्स रजिस्टर आदि की जांच की. देर रात तक अहियापुर थाने में डीजीपी जमे रहें.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने बताया कि डीआईजी और एसपी को टास्क दिया गया है. सभी अधिकारियों के परफॉरमेंस का रिव्यु होगा. 10 दिनों के अंदर नतीजा दिखेगा.




Comment Box