लालू यादव के फरमान के बाद एक्शन में RJD नेता: 150 से ज्यादा कोविड केयर सेंटर खोलेंगे, इलाज से लेकर भोजन तक की होगी व्यवस्था

0
38

41 महीने बाद लालू प्रसाद यादव की राजनीति में एंट्री के बाद उनकी पार्टी के नेता एक्शन में आ गये हैं. आऱजेडी ने बिहार के डेढ़ सौ से ज्यादा जगहों पर कोविड केयर सेंटर खोलने का फैसला लिया है. वहां इलाज की पूरी व्यवस्था होगी. हर क्षेत्र में आरजेडी के नेता सामुदायिक किचन भी चलायेंगे जहां गरीबों को मुफ्त खाना मिलेगा. आरजेडी के विधायक और नेता कोरोना के नाम पर भ्रष्टाचार के खेल पर राजद के नेताओं की खास नजर होगी. लालू यादव ने कोरोना के समय अपनी पार्टी के नेताओं को यही निर्देश दिये हैं.

लालू का फरमान
दरअसल लालू प्रसाद यादव ने अपनी पार्टी के विधायकों के साथ साथ पिछले विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाये गये नेताओं के साथ वर्चुअल मीटिंग की थी. उसी बैठक में लालू ने ऐसे तमाम नेताओं को निर्देश जारी किया. लालू यादव की मीटिंग में राजद के 150 से ज्यादा नेता जुडे थे. सबों को कोविड केयर सेंटर से लेकर गरीबों के लिए खाना औऱ दूसरे इंतजाम करने को कहा गया. देखिये क्या सब करेंगे आरजेडी के नेता


राजद का कोविड केयर सेंटर
लालू यादव ने अपनी पार्टी के नेताओं से कहा है कि वे अपने क्षेत्रों में अस्थायी राजद कोविड केयर सेंटर स्थापित करें. सबसे पहले वे अपने अपने विधानसभा क्षेत्र में ऐसे हॉल, स्कूल या सामुदायिक भवनों को चिन्हित करें जिनका राजद कोविड केयर अथवा आइसोलेशन सेंटर के रूप में उपयोग किया जा सके. पार्टी के विधायकों औऱ नेताओं को कहा गया है कि वे स्थानीय प्रशासन का सहयोग लेते हुए वहाँ बिस्तर, ऑक्सिजन सिलिंडर, निर्बाध बिजली आपूर्ति, दवाएँ, साफ सफाई और मरीज़ो के लिए 24 घण्टे डॉक्टरी सलाह सुनिश्चित कराय़ें. लालू यादव ने कहा है कि बिहार के हर जिले में राजद कोविड केयर सेंटर स्थापित करने की कोशिश होगी, जहां कोविड मरीज़ों को शुरुआती लक्षण दिखने पर दवा किट और अन्य ज़रूरी मदद उपलब्ध कराया जायेगा.



सरकार के भ्रष्टाचार पर नजर ऱखें
लालू ने अपने विधायकों से कहा है कि वे सुनिश्चित करें कि उनके विधायक फंड का एक एक पैसा उनके ही क्षेत्र में खर्च हो रहा है कि नहीं. सभी विधायक इसमें किसी तरह के घालमेल या बंदरबांट को लेकर सजग रहें. विधायक लगातार अपने क्षेत्र के अस्पतालों और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की जाँच पड़ताल करते रहें. वहाँ दिखाई देनेवाली किसी भी तरह की कमी, सरकारी कोताही, प्रशासनिक लीपापोती या कर्मियों द्वारा मरीज़ो- परिजनों की अनदेखी, दुर्व्यवहार का फोटो खिंचवायें, वीडियो बनायें और कड़ा विरोध दर्ज करें.



विधायकों औऱ पार्टी नेताओं को कहा गया है कि वे अपने क्षेत्र में ज़रूरी दवाओं, इंजेक्शन या ऑक्सिजन सिलिंडर की किसी प्रकार की जमाखोरी, मुनाफाखोरी या कालाबाज़ारी को हर कीमत पर रोकें. ये भी सुनिश्चित करें उनके क्षेत्र के सरकारी अस्पतालों में बेड या किसी अन्य सुविधा के लिए वहाँ के सरकारी बाबू परिजनों से घूस ना वसूलें.



अपने नाम से एंबुलेंस चलवायें विधायक
राजद के सभी विधायकों को कहा गया है कि वे जितना सम्भव हो सके उतनी संख्या में अपने नाम से क्षेत्र में एम्बुलेंस चलवायें. दवाओं का इंतज़ाम रखे और क्षेत्र में दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने की कोशिश करें. * सभी विधायक और पार्टी नेता प्रशासन द्वारा अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए संतुलित पौष्टिक आहार का उत्तम विकल्प सुनिश्चित करें. इसके अलावा मरीज़ो के परिजनों और गरीब लोगों के लिए स्थानीय लोगों और प्रशासन के सहयोग से कम्युनिटी किचन की शुरुआत करें.



सफाईकर्मियों को प्रोत्साहन भत्ता देने की मांग
आरजेडी ने चतुर्थ श्रेणी के सभी कर्मचारियों, सफ़ाईकर्मियों और योद्धाओं को जो अस्पतालों से लेकर शमशान घाटों तक पूर्ण समर्पण भाव से मानव सेवा में अपना विशिष्ट योगदान दे रहे है उनके प्रति आभार प्रकट करते हुए उन्हें सरकार द्वारा विशेष प्रोत्साहन राशि देने की माँग की है.



Comment Box