बिहार पहुंचे 1100 से ज्यादा मजदूर, दानापुर रेलवे स्टेशन पहुंची पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन

0
12

पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन पटना के दानापुर रेलवे स्टेशन पहुंच गयी है। जयपुर से 1100 से ज्यादा यात्री बिहार पहुंचे हैं।ट्रेन के दानापुर स्टेशन पर पहुंचते ही प्रशासनिक टीम एक्शन में आ गयी है। सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी।  इसके बाद बसों से यात्रियों को उनके जिले के लिए रवाना किया जाएगा। 

स्टेशन पर सुबह से ही मेडिकल की टीम मौजूद है। वहां बताया गया कि जो भी लोग ट्रेन से दानापुर पहुंचेंगे उनकी स्क्रीनिंग की जाएगी। दानापुर के पास ही जगजीवन स्टेडियम हैं, सभी को स्क्रीनिंग के बाद वहां ले जाया जाएगा औऱ वहां से सभी को बसों से अपने-अपने जिलों के लिए भेज दिया जाएगा। संदिग्ध लोगों के लिए स्पेशल तैयारी की गई है। उन्हें  रोक कर आइसोलेट कर दिया जाएगा।  इसके साथ ही जो भी लोग आ रहे हैं उन्हें क्वारंटाइन सेंटर के साथ ही साथ घर में 21 दिनों के लिए क्वारंटाइन रहना होगा।


दूसरे राज्यों से पटना पहुंचने वाले मजदूरों को उनके जिलों तक पहुंचाने के लिए दानापुर जंक्शन पर 150 बसें लगायी गयी हैं। सभी मजदूरों को स्‍क्रीनिंग करने के बाद उसके जिला मुख्यालयों तक भेज जायेगा। वहां से संबंधित जिला प्रशासन की जिम्मेदारी होगी कि लोगों के प्रखण्डों में बने क्वारंटाइन सेंटर तक पहुंचाये। वहीं, मजदूरों को प्रखण्डों में बने क्वारंटाइन सेंटर तक ले जाने और वहां क्वारंटाइन करने और सभी सुविधाएं मुहैया कराने की जिम्मेदारी SDO को दी गई है।  संबंधित अनुमंडल के SDO सभी सुविधाओं की मॉनिटरिंग करेंगे।

वहीं पटना जिला प्रशासन ने दूसरे राज्‍यों से आने वाले मजदूरों के लिए जिला में 99 क्‍वारंटाइन सेंटर तैयार किये है। सभी मजदूरों को यहां 21 दिन तक क्‍वारेंटीन किया जाएगा। पटना सदर की बात करें तो 7 क्वारंटाइन सेंटर बनाये गए है। जिनमें गर्दनीबाग बालिका उच्च विद्यालय, गर्दनीबाग बालक उच्च विद्यालय, कमल नेहरू उच्च विद्यालय, कॉमर्स कॉलेज पटना, बांकीपुर गर्ल्स स्कूल पटना और राजेन्द्र नगर बालक उच्च विद्यालय में बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर शामिल हैं।

Team.



Comment Box