बड़ी खबर : बिहार DGP का खुलासा, एयरपोर्ट पार्किंग ठेके को लेकर हुई रूपेश सिंह की हत्या

0
107

पटना. एयरलाइंस कंपनी इंडिगो के स्टेशन हेड रूपेश कुमार सिंह हत्याकांड (Rupesh Singh murder case) को लेकर बिहार के पुलिस महानिदेशक ने बड़ा खुलासा करते हुए साफ कहा कि रूपेश की हत्या एयरपोर्ट पार्किंग के ठेके को लेकर हुई है. पार्किंग ठेके को लेकर पहले से विवाद चल रहा था. उनके परिवार के कई लोग इस ठेके में काम में शामिल थे. इस मामले में पुलिस हर एंगल से पड़ताल कर रही है . डीजीपी ने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद भी पूरे मामले की गहराई से जानकारी ले रहे हैं.

डीजीपी एस. के. सिंघल (DGP SK Singhal) ने बताया कि रूपेश हत्याकांड में पुलिस जांच अंतिम दौर में पहुंच चुकी है, जो तथ्य सामने आये हैं , उनके मुताबिक बाहर से कांट्रेक्ट किलर को बुलाकर हत्या की गई थी. इस मामले में हर पहलू की बारीकी से जांच की जा रही है. जल्द बड़ा खुलासा देखने को मिलेगा. बता दें कि 12 जनवरी को हुई इस सनसनीखेज वारदात के बाद से ही पुलिस लगभग खाली हाथ है. समूचे विपक्ष ने सरकार को घेरते हुए बड़ा सियासी बवाल खड़ा कर दिया है. मुख्यमंत्री खुद पूरे मामले की निगहबानी कर रहे हैं और पल-पल की जानकारी ले रहे हैं.


रूपेश हत्याकांड को लेकर बिहार के डीजीपी सिंघल ने बताया कि ये बेहद संवेदनशील और जटिल मामला है. रूपेश के परिवार के सदस्यों को मिलने वाले टेंडर के मामले की भी सख्ती से जांच हो रही है. एयरपोर्ट पार्किंग ठेकेदारी और पारिवारिक ठेके, दो मामलों पर जांच चल रही है. यही दो मामले हैं जिसके कारण हत्या होने की आशंका है.

बता दें कि गत 12 जनवरी को पटना के पुनाइचक में हुई इस सनसनीखेज वारदात को लेकर सियासी घमासान लगातार जारी है. विपक्ष खास तौर पर आरजेडी लगातार नीतीश कुमार सरकार पर निशाना साधते हुए उसे कठघरे में खड़ा कर रही है.

Input : News 18



Comment Box