पटना में बड़ा हादसा, बेली रोड फ्लाई ओवर के गाटर में दबने से तीन बच्चों की दर्दनाक मौत

0
13

पटना. कोरोना महामारी और लॉकडाउन के बीच राजधानी पटना में बुधवार की शाम एक बड़ा हादसा हो गया जिसमें तीन बच्चों की मौत हो गई. पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के बेली रोड में पुल निर्माण निगम का काम चल रहा है.

बुधवार की देर शाम बगल की झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले 13 साल के केशव करण और साहिल यहां एक साथ खेल रहे थे. इसी दौरान ये तीनों बच्चे बेली रोड में सड़क किनारे रखे गाटर के समीप आकर बैठे गये और अचानक से गड्ढे में आ गिरे. इसके बाद उनके ऊपर गाटर भी गिर गया. तीनों नीचे दब के चिल्लाने लगे जिसके बाद आसपास में खड़े लोग उस तरफ दौड़े लेकिन काफी जद्दोजहद के बाद भी वहां मौजूद लोग गाटर को हटा नहीं सके. बाद में वहां पर क्रेन मंगाया गया और 25 से 30 मिनट के बाद बच्चों के ऊपर से गाटर को हटाया जा सका .


मौके पर पहुंची सचिवालय थाना की पुलिस तीनों बच्चों को नाजुक हालत में लेकर हॉस्पिटल पहुंची लेकिन तीनों में से किसी को बचाया नहीं जा सका. हादसे के बाद परिजनों में कोहराम मचा गया. घटना से गुस्साए लोगों ने बेली रोड पर घंटों सड़क जाम करने के साथी वहां से गुजरने वाली गाड़ियों को निशाना बनाया.  पुलिस की मौजूदगी में ही लोगों ने कई गाड़ियों के शीशे तोड़ डाले. हालात संभालने के लिए 8 से 10 थानों की पुलिस टीम कई डीएसपी और यहां तक की एसएसपी उपेंद्र शर्मा भी मौके पर पहुंचे.

पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने भी घटनास्थल का मुआयना किया और जांच की. डीएम ने कहा कि इस पूरे मामले की जांच कराई जाएगी और उनके खिलाफ कार्रवाई होना तय है जो दोषी होंगे. घटना के बाद पूरे मामले की जांच का आदेश डीएम ने सदर एसडीओ को दिया गया है. कुमार रवि ने बताया कि जांच रिपोर्ट आने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल इस मामले को लेकर थाना में केस दर्ज किया गया है.

पटना में हुई इस घटना पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी दुख जताया है. मुख्यमंत्री ने बच्चों के परिजनों को 4-4 लाख की सहायता राशि देने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को दुख की इस घड़ी में धारण करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है. स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुल निर्माण विभाग के इंजीनियर को कई बार सड़क किनारे रखे गए गाटर को हटाने के लिए कहा गया लेकिन तीन-चार साल से गाटर यूं ही सड़क किनारे पड़े हुए हैं और आखिरकार आज वही हुआ जिसका डर था.

Input : News 18 Bihar.



Comment Box