एक मार्च से खुलेंगे पहली से पांचवीं तक के बच्चों का स्कूल, कोरोना काल के बाद सरकार का बड़ा फैसला

0
71

कोरोना काल के बाद पहली बार क्लास वन से लेकर पांचवी तक के स्कूल खुलने जा रहे हैं। 1 मार्च से पहली क्लास से लेकर पांचवी क्लास तक के बच्चों के स्कूल खुल जाएंगे। राज्य सरकार स्कूल खोलने के संबंध में या बड़ा फैसला किया है। सरकार के इस फैसले के बाद एक बार से पहली क्लास से लेकर 12वीं तक के स्कूल का संचालन शुरू हो जाएगा मुख्य सचिव दीपक कुमार ने शनिवार को कहा है कि पहली क्लास से लेकर पांचवी तक के स्कूल खोलने की अनुमति दी गई है।

मुख्य सचिव ने कहा है कि 50 फ़ीसदी बच्चों के साथ ही स्कूलों को खोलने का फैसला किया गया है। अगले दिन शेष 50 सीसी बच्चे स्कूल आएंगे। स्कूल प्रशासन को रोना से बचाव की गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन करेंगे यह सुनिश्चित करना होगा। सरकारी स्कूल के बच्चों को दो-दो मास्क उपलब्ध कराए जाएंगे। मुख्य सचिव ने कहा है कि स्कूल खुलने के 15 दिनों बाद आपदा प्रबंधन समूह की बैठक होगी और राज्य भर के स्कूलों की स्थिति की समीक्षा की जाएगी। जिलों से रिपोर्ट ली जाएगी फिर आगे क्या करना है इस पर फैसला किया जाएगा। सरकार ने सभी जिलों में प्रशासन को सचेत और सतर्क रहने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि इस बाबत सभी आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश शिक्षा विभाग को दे दिया गया है।


शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने कहा है कि पहली से पांचवी तक के स्कूल खोलने को लेकर सभी जिलों में विस्तृत गाइडलाइन भेजी जाएगी। आपको याद दिला दें कि सबसे पहले राज्य में 9वीं से लेकर 12वीं तक के बच्चों के लिए स्कूल खोले गए थे। 4 जनवरी से इसकी शुरुआत हुई थी दूसरे चरण में छठी से लेकर आठवीं तक के बच्चों के स्कूल 8 फरवरी से खोले गए और अब 1 मार्च से पहले से लेकर पांचवी तक के बच्चों का स्कूल खोलने का फैसला किया गया है।



Comment Box