अजब गजब : बिहार में शॉपिंग नहीं कराने, पासवर्ड छिपाने और ज्यादा रोटियां बनाने पर पत्नियां कर रहीं मुकदमा, जाने कहाँ

0
21

घर में हो रहीं छोटी-छोटी बातें आपके लिए बड़ी परेशानी खड़ी कर सकती हैं। बिहार की राजधानी पटना में पिछले कुछ समय से महिला थाने में आए अजब-गजब केस इसे बखूबी बयां कर रहे हैं। इन मामलों का निपटारा करने में थानाध्यक्ष से लेकर सिपाही तक उलझकर रह जाते हैं। महिला थाना प्रभारी आरती जायसवाल कहती हैं कि ऐसे केस जब भी आते हैं, उसमें जल्द से जल्द दोनों पक्षों को बुलाकर समझौता कराने का प्रयास किया जाता है। जिस केस में बात से समाधान नहीं निकलता, उनमें महिलाओं को अल्पावास केंद्र भेजकर कुछ देर सोचने और शांत रहने का समय भी दिया जाता है। इसके बावजूद राजधानी में हर महीने इस तरह के केस सामने आते रहे हैं।

शॉपिंग पर नहीं ले जाता पति, अपने लिए करते हैं खरीदारी


पटना का महिला थाना अजीब केस से हमेशा चर्चा में रहा है। महिला थाने में पिछले साल एक ऐसा मामला आया कि सभी चौंक गए। दानापुर की रहने वाली महिला ने थाने मे आवेदन देते हुए कहा कि उसका पति उसे कभी शॉपिंग करवाने बाहर नहीं ले जाता है। उसने कहा कि वो (पति) खुद अपने लिए तो शॉपिंग करने चले जाते हैं, लेकिन अगर कभी मैं खरीदारी की बात करूं तो झगड़ा करने लगते हैं। शॉपिंग का नाम लेने पर पैसा भी नहीं देते। पति का कहना था कि पत्नी को आसपास के बाजार के सामान पसंद नहीं आते। मेरी इतनी सैलरी नहीं कि उतने महंगे सामान खरीद सकूं या कोई उपहार दे सकूं।

मैं इतनी पढ़ी-लिखी, दस लोगों के लिए कैसे बनाऊं रोटीhttps://googleads.g.doubleclick.net/pagead/ads?guci=2.2.0.0.2.2.0.0&client=ca-pub-9497749968822576&output=html&h=275&slotname=3901949665&adk=2891090527&adf=337872043&pi=t.ma~as.3901949665&w=330&fwrn=7&lmt=1607221897&rafmt=11&psa=1&format=330×275&url=https%3A%2F%2Fmuzaffarpurnow.in%2F%25e0%25a4%25aa%25e0%25a4%25a4%25e0%25a4%25bf-%25e0%25a4%25b9%25e0%25a5%258b-%25e0%25a4%259c%25e0%25a4%25be%25e0%25a4%258f%25e0%25a4%2582-%25e0%25a4%25b8%25e0%25a4%25be%25e0%25a4%25b5%25e0%25a4%25a7%25e0%25a4%25be%25e0%25a4%25a8%25e0%25a4%2583-%25e0%25a4%25aa%25e0%25a4%259f%25e0%25a4%25a8%25e0%25a4%25be-%25e0%25a4%25ae%2F&flash=0&wgl=1&tt_state=W3siaXNzdWVyT3JpZ2luIjoiaHR0cHM6Ly9hZHNlcnZpY2UuZ29vZ2xlLmNvbSIsInN0YXRlIjowfSx7Imlzc3Vlck9yaWdpbiI6Imh0dHBzOi8vYXR0ZXN0YXRpb24uYW5kcm9pZC5jb20iLCJzdGF0ZSI6MH1d&dt=1607221895034&bpp=16&bdt=4226&idt=2938&shv=r20201201&cbv=r20190131&ptt=9&saldr=aa&abxe=1&cookie=ID%3Dabdb469321c2330f-22c611f41ac40024%3AT%3D1602831260%3ART%3D1602831260%3AS%3DALNI_Mba4gdeGVzk1F2RAUjnRY1YYl66eQ&prev_fmts=0x0%2C330x275&nras=1&correlator=1472263700259&frm=20&pv=1&ga_vid=1011400350.1602305246&ga_sid=1607221897&ga_hid=1689803558&ga_fc=0&rplot=4&u_tz=330&u_his=2&u_java=0&u_h=640&u_w=360&u_ah=640&u_aw=360&u_cd=24&u_nplug=0&u_nmime=0&adx=15&ady=1582&biw=360&bih=574&scr_x=0&scr_y=1860&eid=21067981%2C21068945%2C21066973&oid=3&pvsid=3231981109867949&pem=985&ref=https%3A%2F%2Fmuzaffarpurnow.in%2F%25E0%25A4%2595%25E0%25A5%2583%25E0%25A4%25B7%25E0%25A4%25BF-%25E0%25A4%25AC%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%25B2-%25E0%25A4%2595%25E0%25A5%2587-%25E0%25A4%25B5%25E0%25A4%25BF%25E0%25A4%25B0%25E0%25A5%258B%25E0%25A4%25A7-%25E0%25A4%25AE%25E0%25A5%2587%25E0%25A4%2582-%25E0%25A4%25A7%25E0%25A4%25B0%25E0%25A4%25A8%25E0%25A4%25BE%2F&rx=0&eae=0&fc=1924&brdim=0%2C0%2C0%2C0%2C360%2C0%2C360%2C574%2C360%2C574&vis=1&rsz=%7C%7CoeE%7C&abl=CS&pfx=0&fu=8320&bc=31&ifi=2&uci=a!2&fsb=1&xpc=PwJpIwOJWs&p=https%3A//muzaffarpurnow.in&dtd=3035

महिला थाने में आया एक और मामला काफी चर्चा में रहा था। पटना सिटी की रहने वाली महिला ने थाने में आवेदन देते हुए कहा था कि ससुराल में उसका परिवार काफी बड़ा है। ऐसे में उसे सुबह और शाम 10 लोगों के लिए रोटियां बनानी पड़ती हैं। पति तो किसी प्रकार की मदद नहीं करते ससुराल के लोग रोज अलग-अलग खाने की डिमांड करते रहते हैं। महिला ने अपने आवेदन में कहा था कि ‘मैं इतनी पढ़ी-लिखी हूं तो क्या मैं घर का काम ही करती रहूं।

पति नहीं बताते फोन का पासवर्ड, मुझे है शक

फोन का पासवर्ड विवाद पैदा कर सकता है? हां, ऐसा है। पटेल नगर की रहने वाली महिला ने थाने में आवेदन देकर कहा कि मेरे पति रोज देर रात तक फोन पर बात करते रहते हैं। पत्नी का आरोप था कि अगर मैं कभी फोन का पासवर्ड मांगती हूं तो वे नहीं बताते हैं। महिला का आरोप था कि पति उसके साथ फोटो खिंचवाने से भी मना करते हैं। अपने आवेदन में पत्नी ने कहा था कि मुझे अपने पति पर शक है। इसलिए उन्हें थाने बुलवाकर समझाया जाए और फोन का पासवर्ड मुझे देने को कहा जाए।



Comment Box