बिहार में लॉकडाउन या वीकेंड कर्फ्यू लगेगा? सीएम नीतीश कर रहे सभी डीएम और एसपी संग बैठक, थोड़ी देर में एलान

0
144

Bihar Lockdown, Bihar Corona Update, Nirish kumar Meeting, Night Curefew in Bihar, Live Update: बिहार में कोरोना के बदतर हो रही स्थिति को कम करने के लिए लॉकडाउन लगेगा या वीकेंड कर्फ्यू , या फिर कुछ और, यह थोड़ी देर में साफ हो जाएगा. शनिवार को हुए सर्वदलीय बैठक के बाद आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सभी जिलों के डीएम और एसपी संग बैठक कर रहे हैं.

मुख्यमंत्री डीएम-एसपी से जिले की हालात की रिपोर्ट ले रहे हैं. इस बैठक में उप मुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद के अलावा कई बड़े अधिकारी भी शामिल हैं. माना जा रहा है कि बिहार में हर पल बढ़ते कोरोना के खतरे को देखते हुए अब राज्य सरकार कोई बड़ा फैसला ले सकती है. पिछले दो दिनों से मुख्यमंत्री लगातार कोरोना संकट पर समीक्षा बैठकों में शामिल होते रहे हैं.


शनिवार को सर्वदलीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री खुद इस बात को कह चुके हैं कि आज यानी रविवार को सरकार अपने फैसले के बारे में जानकारी देगी. माना जा रहा है कि आज होने वाली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री खुद बड़े फैसले का ऐलान कर सकते हैं.

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना रोज नये रिकॉर्ड कायम कर रहा है. शनिवार को भी सबसे अधिक 7870 नये मामले दर्ज किये गये. वहीं कोरोना से शनिवार को 34 लोगों की मौत हो गयी. इसमें पटना में सबसे अधिक 1898 नये मामले सामने आये. इस बीच राज्य में कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन उपलब्धता के लिए स्वास्थ्य विभाग ने एक कंट्रोल रूम बनाया है. विभाग के विशेष सचिव की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की टीम ऑक्सीजन उपलब्धता की मॉनिटरिंग कर रही है.

राज्य में प्रतिदिन औसतन करीब एक लाख के करीब लोगों को कोरोना से बचाव के लिए टीका भी दिया जा रहा है. इधर, कोविड को लेकर आ रहे देश भर के आंकड़ों में बिहार की स्थिति भी धीरे-धीरे खराब हो रही है. केंद्र के आंकड़ों के अनुसार प्रतिदिन नये मरीज आने की संख्या के मामले में बिहार बीते दो-दिनों से कभी दसवें व कभी 11 वें नंबर पर दर्ज किया जा रहा है. जबकि मार्च की शुरुआत में यह आंकड़ा काफी नीचे था.

रिपोर्ट बताती है कि वर्तमान में सबसे अधिक महाराष्ट्र में (प्रतिदिन करीब 60 हजार से अधिक) नये संक्रमित सामने आ रहे हैं. वहां साढ़े छह लाख के करीब एक्टिव मरीज हैं. महाराष्ट्र के अलावा प्रतिदिन नये मामलों में दूसरे नंबर पर यूपी, तीसरे नंबर पर दिल्ली, चौथे नंबर पर तमिलनाडु और पांचवें नंबर पर छत्तीसगढ़ व कर्नाटक है.



Comment Box