बिहार में लॉकडाउन जैसे हालात, रेलवे ने किया बड़ा एलान, 46 पैसेंजर ट्रेनें बंद

0
122

बिहार में कोरोना महामारी का संक्रमण काफी तेजी से फ़ैल रहा है. राज्य के कई जिलों में प्रशासन की टीम ने वीकेंड लॉकडाउन का एलान किया है. कोरोना के बढ़ते संक्रमण से राज्य सरकार काफी चिंतित है. सोमवार को सीएम ने राज्य के सीनियर अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और उन्होंने आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए. इसी कड़ी में रेलवे ने एक बड़ा फैसला लिया है. बिहार में चल रहीं 46 पैसेंजर ट्रेनों को बंद करने का एलान किया गया है.

सोमवार को ईस्ट सेंट्रल रेलवे की ओर से जारी आदेश के मुताबिक कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 23 जोड़ी मेमू और डेमू पैसेंजर ट्रेनों को बंद करने का एलान किया गया है. आपको बता दें कि ईस्ट सेंट्रल रेलवे की ओर से ये 46 गाड़ियां चलाई जा रही थीं, जिसका परिचालन गुरूवार 29 अप्रैल से अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है.


ईस्ट सेंट्रल रेलवे के मुख्य जनसंपर्क पदाधिकारी राजेश कुमार की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक इन ट्रेनों में यात्रियों की भीड़ भी कम हो गई थी और दूसरी ओर कोरोना का संक्रमण भी बड़ी तेजी से सूबे में फ़ैल रहा है. इसलिए रेलवे ने यह बड़ा निर्णय लिया है. आगे ये ट्रेनें काम से चलाई जाएंगी, इसकी सूचना यात्रियों को बाद में दी जाएगी. फिलहाल 29 अप्रैल से इन सभी 46 ट्रेनों का परिचालन अगले आदेश तक बंद कर दिया जायेगा. 

आपको बता दें कि सोमवार को बिहार सरकार की ओर से जारी ताजा आंकड़े के मुताबिक राज्य में पिछले 24 घंटे में कुल 11 हजार 801 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है. राजधानी पटना में एक बार फिर से सबसे ज्यादा 2720 न्यू पॉजिटिव केस मिले हैं. बिहार स्वास्थ्य विभाग की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक सूबे में 1 हजार 801 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है.

राजधानी पटना समेत बिहार के आधा दर्जन जिलों में 500 से अधिक पॉजिटिव केस मिले हैं. पटना में सर्वाधिक 2720 नए मरीजों के अलावा गया जिले में 655, सारण में जिले 560, औरंगाबाद जिले में 550, बेगूसराय में जिले 549 और गोपालगंज जिले में 500 मरीजों की पहचान की गई है. बिहार में पिछले 24 घंटे में कुल 80 हजार 461 लोगों का टेस्ट क्या गया. जबकि कल रविवार के आंकड़े के मुताबिक एक लाख 491 लोगों की जांच की गई थी, जिसमें 12 हजार 795 मरीजों की पहचान की गई थी.  

उधर बिहार में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामले को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को आलाधिकारियों के सह बैठक कर हालात का जायजा लिया. सीएम ने इस बैठक में अफसरों से कहा कि राज्य में कोरोना का संक्रमण अभी और बढ़ सकता है. ऐसे में उन्होंने कहा कि अधिकारी परिस्थिति के अनुसार हर जरुरी कदम उठायें. सीएम ने कहा कि हर हाल में ऑक्सीजन की आपूर्ति  करनी है, दवा के साथ-साथ ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता रखें ताकि कोरोना मरीजों को किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं हो. सरकारी या प्राइवेट हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की जो जरुरत है उसको पूरा करने के लिए हर जरूरी कदम को उठाया जाये.



Comment Box