पूर्व सांसद शहाबुद्दीन की मौत पर बिहार में सियासत, जीतन राम मांझी ने केंद्र और राज्य सरकार से की न्यायिक जांच की मांग

0
76
जितिन राम मांझी (पूर्व मुख्यमंत्री, बिहार)

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के पूर्व सांसद और बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन की मौत पर बिहार में सियासत शुरू हो गयी है. बिहार में सत्ताधारी एनडीए के सहयोगी दल हम के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने पूर्व सांसद के मौत की न्यायिक जांच की मांग की है.साथ ही राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कराए जाने का भी आग्रह किया है.

मांझी ने सोमवार को ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह किया कि सीवान के पूर्व सांसद सैयद शहाबुद्दीन के निधन की न्यायिक जांच एवं उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाए.


बता दें कि राजद ने पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन की मौत के बाद सियासत शुरू हो गई है. पूर्व बाहुबली सांसद की मौत पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है. वहीं राजद विधायक सुरेंद्र प्रसाद यादव और जाप प्रमुख पप्पू यादव ने इसे हत्या करार दिया है.

जानकार बताते हैं जीतनराम मांझी भी जानते हैं कि सजायाफ्ता कैदी को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कराने का प्रावधान नहीं है. वो भी शहाबुद्दीन जैसे शख्स का जिन पर 30 से अधिक संगीन मामले दर्ज हो. फिर भी अल्पसंख्यकों में अपनी पैठ बनाने के लिए मांझी ने सीएम नीतीश से ये बड़ी मांग की है.

गौरतलब है कि डॉन से राजनेता बने राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन का दिल्ली के एक अस्पताल में शनिवार को निधन हो गया था, जहां उनका कोरोना का इलाज चल रहा था. 53 वर्षीय बिहार के बाहुबली नेता 2004 के दोहरे हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे थे. उन्हें 2018 में तिहाड़ जेल में ट्रांसफर कर दिया गया था.



Comment Box