पटना के न्यूज पोर्टल दफ्तर में चल रहा था ऑक्सीजन सिलेंडर के कालाबाजारी का खेल, पुलिस छापेमारी में 60 सिलेंडर जब्त

0
80

एक तरफ जहां ऑक्सीजन की हाहाकार मची और कोरोना संक्रमित मरीज सहित प्राइवेट अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडरों की किल्लत महसूस की जा रही है वहीं दूसरी ओर पटना के एसके पुरी थाना क्षेत्र के आनंदपुरी मोहल्ले में सिलेंडर जमा कर उसके कालाबाजारी करने वालों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. हैरान करने वाली बात यह है कि ये कारनामा एक प्राइवेट न्यूज के दफ्तर में चल रहा था. किराये के एक मकान में चल रहे इस दफ्तर से 60 ऑक्सीजन सिलिंडर जब्त किये गये.

पुलिस को यह सूचना मिली थी कि इस दफ्तर से ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी होती है. सूचना के आधार पर पुलिस ने दिए गए पते पर बुधवार को धावा बोला और छापेमारी की. इस दौरान मौके पर एक व्यक्ति रितेश शर्मा को हिरासत में भी लिया गया. यह दफ्तर कटिहार जिले के ललित अग्रवाल का बताया जा रहा है. आरोपितों पर आपदा प्रबंधन अधिनियम, आइपीसी एवं एक्सप्लोसिव्स एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.


मौके पर मौजूद ऑक्सीजन सिलेंडर के एक खरीदार ने बताया कि एक छोटा ऑक्सीजन सिलिंडर ( पांच लीटर ) की कीमत यहां 10 हजार रुपये है. वहीं पड़ोस में रहने वाले लोग भी सामने आए और बताया कि मंगलवार की रात ऑक्सीजन सिलिंडर यहां लाये गये. जिला प्रशासन की कई टीमें ऑक्सीजन सिलिंडर की कालाबाजारी रोकने के लिए सक्रिय हैं. ऐसा करने वालों की सूचनाएं एकत्र की जा रही है, ताकि उनके यहां छापेमारी की जा सके. आम लोग भी इसकी सूचना जिला प्रशासन को दे सकते हैं.

बता दें कि ऑक्सीजन की किल्लत के कारण पटना में होम आइसोलेट मरीजों को ही नहीं बल्कि प्राइवेट अस्पतालों को भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. वहीं कालाबाजारी बढ़ने के कारण जरुरतमंदों को मजबूर होकर अनाप-शनाप कीमत देकर ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदना पड़ रहा है. 120 लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन गुरूवार को और उपलब्ध होने के बाद जरुरतमंदों को थोड़ी राहत मिलने की संभावना है. 

Input : Prabhat Khabar.



Comment Box