दूल्हा-दुल्हन को मैरेज हॉल से बाहर निकाला, अब खुद सस्पेंड हो गये DM

0
45

कभी-कभी अति-उत्साह दिखाना भी भारी पड़ जाता है। ऐसा ही कुछ हुआ वेस्ट त्रिपुरा के डीएम शैलेश यादव के साथ, जिन्हें कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने की वजह से सस्पेंड होना पड़ा। दरअसल इन्होंने एक मैरिज हॉल में शादी के दौरान लोगों से बदसलूकी की थी और इसकी वीडियो वायरल हो गया था। मुख्यमंत्री बिप्लवदेव ने मामले की विस्तृत रिपोर्ट मांगी और फिर डीएम को सस्पेंड करने का आदेश दे दिया।

बता दें कि त्रिपुरा में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने सात घंटे का नाइट कर्फ्यू लगा रखा है, जो रात 10 बजे से शुरु होता है। जिले में कोविड प्रोटोकॉल को लेकर डीएम शैलेश कुमार यादव इतने सक्रिय हो गये कि माणिक्य कोर्ट में एक शादी समारोह को रोकने पहुंच गये। उन्होंने दूल्हा और दुल्हन को जबरदस्ती मैरिज हॉल से बाहर निकलवा दिया। साथ ही मेहमानों से बदसलूकी की। सोशल मीडियो पर वायरल एक वीडियो में डीएम शैलेश इस दौरान काफी गुस्से में दिखे और मैरिज हॉल में कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं करने वालों को अरेस्ट करने का ऑर्डर दे दिया। उन्होंने माणिक्य कोर्ट सहित दो मैरिज हॉल बंद करने की भी धमकी दी।


डीएम की बदसलूकी का वीडियो वायरल होने पर मामले ने तूल पकड़ लिया। मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने भी इसे गंभीरता से लिया और मुख्य सचिव मनोज कुमार से पूरी रिपोर्ट मांगी। अब डीएम को सस्पेंड कर दिया गया है। वैसे, बाद में डीएम शैलेश यादव ने इसके लिए माफी भी मांगी थी और कहा कि उनका मकसद किसी को अपमानित करने का नहीं था, बल्कि लोगों के भले के लिए ऐसा किया था।



Comment Box