तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर से नेता बने शहाबुद्दीन को हुआ कोरोना, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती

0
42

दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद राजद के पूर्व सांसद और बाहुबली शहाबुद्दीन भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। कोविड-19 के लक्षण दिखने के बाद शहाबुद्दीन का कोरोना टेस्ट करवाया गया था और जिसमें उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। तिहाड़ जेल प्रशासन ने शहाबुद्दीन को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। तिहाड़ जेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

हत्या के मामले में तिहाड़ जेल में आजावीन कारावास की सजा काट रहे पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के खिलाफ तीन दर्जन से अधिक आपराधिक मामले चल रहे हैं। 15 फरवरी 2018 को सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें बिहार की सीवान जेल से तिहाड़ लाने का आदेश दिया था।


बता दें कि एशिया की सबसे बड़ी तिहाड़ जेल, मंडोली और रोहिणी जेल में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने शुरू हो गए हैं। इसे लेकर कोरोना संक्रमित कैदियों की स्क्रीनिंग बढ़ा दी गई है। नए आने वाले कैदियों को क्वारंटाइन करने के लिए अलग से व्यवस्था की गई है।

तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल का कहना है कि 16 मार्च 2021 से 14 अप्रैल 2021 तक कुल 70 कैदी कोरोना संक्रमित हुए थे, इनमें से तीन अब पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्होंने बताया कि गत मई 2020 से फरवरी 2021 तक 120 कैदी संक्रमित हुए थे और 118 पूरी तरह से स्वस्थ हो गए, जबकि दो कैदियों की मौत हो गई थी। इसी दरम्यान जेल के 293 अधिकारी और कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए थे और सभी पूरी तरह से ठीक हो गए थे।

तिहाड़ जेल के अधिकारी अब हाई अलर्ट पर हैं और जेल के अंदर कोरोना संक्रमण कैसे फैल रहा है इसका पता लगाने में जुट गए हैं। शहाबुद्दीन को तिहाड़ में एकदम अलग बैरक में रखा गया है। उस बैरक में शहाबुद्दीन के अलावा कोई दूसरा कैदी नहीं है। 

जेल के एक अधिकारी ने नाम नहीं छापने के शर्त पर बताया कि तिहाड़ में तीन ऐसे कैदी (शहाबुद्दीन, छोटा राजन और नीरज बवाना) हैं जिनको अलग-अलग बैरकों में अकेला रखा गया है। इनका किसी से भी मिलना-जुलना नहीं होता है। पिछले 20-25 दिनों से इनके परिजनों को भी इन कैदियों से मिलने नहीं दिया जा रहा है। इन सबके बावजूद शहाबुद्दीन कैसे कोरोना संक्रमित हो गया, ये चिंता करने की बात है।



Comment Box