चलती रोडवेज बस में अचानक लगी आग, चालक और यात्रियों ने भागकर बचाई जान

0
103

कानपुर, जेएनएन। चकेरी के रामादेवी चौराहे के पास जीटी रोड पर मंगलवार दोपहर को अचानक चलती रोडवेज बस में आग लग गई। इस दौरान बस में बैठे यात्रियों में भगदड़ मच गई। यात्रियों समेत बस चालक व परिचालक ने भागकर किसी तरह से अपनी जान बचाई। हालांकि वहां से गुजरते समय जिसने भी जलती हुई बस काे देखा तो वो वहीं ठहर गया। स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर दमकल की तीन गाड़ियों ने पहुंचकर आग पर काबू पाया। बताया जा रहा है कि यात्रियों का काफी सामान आग की चपेट में आकर जल गया।

बस के परिचालक प्रयागराज निवासी रंजू कुमार ने बताया कि लीडर रोड डिपो की बस मंगलवार सुबह करीब 6:30 बजे प्रयागराज से कानपुर के लिए निकली थी। रंजू कुमार के अनुसार रामादेवी चौराहे बस में चालक दिनेश सोनकर समेत करीब 40 यात्री सवार थे। बस जीटी रोड स्थित मलिक गेस्ट हाउस के पहुंची तो अचानक इंजन में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। इंजन से धुंआ निकलने पर राहगीरों ने चालक को जानकारी दी। जिस पर चालक समेत सभी यात्रियों में दहशत मच गई। देखते ही देखते आग भयावह हो गई और पूरी बस को अपनी चपेट में ले लिया। तभी गेस्ट हाउस में मौजूद दुकानदार विनीत शुक्ला, मनीष शर्मा, अनुज यादव, अमित गुप्ता उर्फ बाबू ने सबमर्सिबल पंप से बस में लगी आग को बुझाने का प्रयास किया और दमकल को सूचना दी। मौके पर दमकल की तीन गाड़ियां पहुंची और करीब आधे घंटे की मशक्कत कर आग पर काबू पाया। आग से कोई हताहत तो नहीं हुआ, लेकिन यात्रियों बैग, सूटकेस और अन्य सामान जल गया। चकेरी इंस्पेक्टर दधिबल तिवारी ने बताया कि संभवत: फ्यूल टैंक में लीकेज से आग लगी है, लेकिन राहत की बात ये रही कि कोई हताहत नहीं हुआ। 




Comment Box