कनाडा ने भारत-पाकिस्तान की यात्री उड़ानों पर लगाई रोक, जानिए फिर कब शुरू होगी उड़ान सेवा

0
73

कनाडा ने भारत-पाकिस्तान से अपने यहां आने वाली सभी यात्री उड़ानों को आगामी 30 दिनों के लिए रद्द कर दिया है. कनाडा के परिवहन मंत्री उमर अल्गबरा ने इन दोनों एशियाई देशों में कोरोना के बढ़ रहे मामलों का हवाला देते हुए यात्री उड़ानों पर एक महीने के लिए रोक लगाने का ऐलान किया है. परिवहन मंत्री अल्गबरा ने एक समाचार एजेंसी को बताया कि भारत-पाकिस्तान से कनाडा पहुंचने वाले हवाई यात्रियों में कोरोना से संक्रमितों की अधिक संख्या को देखते हुए मैं भारतीय और पाकिस्तान से कनाडा पहुंचने वाली सभी वाणिज्यिक और निजी यात्री उड़ानों को 30 दिनों के लिए निलंबित कर रहा हूं.

उन्होंने कहा कि यह एक अस्थायी उपाय है, जबकि हम कोरोना की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और आने वाले दिनों में बेहतर उपाय करेंगे. इन दोनों देशों से यात्री उड़ानों पर स्थानीय समय के अनुसार गुरुवार की रात 11.30 बजे (जीएमटी 3.30 बजे शुक्रवार) से प्रतिबंध लागू हो जाएगा. उन्होंने कहा कि हालांकि, यह प्रतिबंध मालवाहक उड़ानों पर लागू नहीं होगा. खासतौर पर कोरोना वायरस टीका, व्यक्ति सुरक्षा उपकरण और आवश्यक सामानों का शिपमेंट पहले की तरह जारी रहेगा.


भारत में इस समय कोरोना के डबल म्यूटेंट वैरिएंट और सुपर स्प्रेडर के मामले अधिक आ रहे हैं. गुरुवार को कोरोना के 3 लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए, जो एक दिन में कोरोना के सबसे अधिक रिकॉर्ड मामले हैं. कनाडा के स्वास्थ्य मंत्री पैटी हज्दू ने कहा कि कुल मिलाकर कनाडा में केवल 1.8 फीसदी यात्रियों ने कोरोना वायरस के लिए पॉजिटिव टेस्ट कराया है.

उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में कनाडा आने वाले हवाई यात्रियों में से भारत के करीब 20 फीसदी लोग शामिल हैं. बॉर्डर पर पॉजिटिव टेस्ट कराने के बाद आधे से अधिक इस देश से आने वाली उड़ानों से थे. उन्होंने कहा कि इसी प्रकार पाकिस्तान से भी आने वाली उड़ानों में कोरोना के पॉजिटिव मरीज पाए जा रहे हें. यह बहुत बड़ी संख्या है और भारत में महामारी की स्थिति को देखते हुए यात्रा पर प्रतिबंध लगाना जरूरी है. हालांकि, हमारे वैज्ञानिक और शोधकर्ता इस पर लगातार बेहतर तरीके से काम कर रहे हैं और प्रभावित क्षेत्रों में पर्यवेक्षक भी भेजे जा रहे हैं.

कनाडा के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, पिछले दो हफ्तों के दौरान दिल्ली से 18 और लाहौर से दो उड़ानें टोरंटो और वैंकूवर पहुंचीं. इनमें से विमान पर सवार यात्रियों में कम से कम एक यात्री में बीमारी का पता चला. कनाडा ने कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पिछले साल के दिसंबर महीने में कुछ समय के लिए ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर भी प्रतिबंध लगा दिया था, जब ब्रिटेन में कोरोना संक्रमण के नए मामले तेजी से बढ़ रहे थे.



Comment Box